View all categories

What is Value at Risk (VAR), Extreme Loss Margin (ELM), and Adhoc margins?

(हिंदी में पढ़ें)

Value at Risk (VAR) refers to the potential loss that might occur while dealing with securities for a given timeframe. VAR margin is required to cover up for the losses arising due to uncertain risk conditions.

VAR margins are covered for a single day for Liquid securities and three days for illiquid securities.

Extreme Loss Margin (ELM) is the margin blocked in addition to the VAR margin. ELM is blocked for risk situations that are not covered in the VAR estimation.

Adhoc Margins are special margins blocked on specific securities depending on the nature of the security.

Note:

In Zerodha, the entire margin is required upfront for your equity delivery trades.

For intraday, margin requirements are specified here .

Adhoc margins are denoted as ‘ delivery margin ’ on the Kite funds page.

Due to the new margin rules , any insufficient margin (VAR+ELM+Adhoc) may lead to a margin penalty.

वैल्यू एट रिस्क (VAR), एक्सट्रीम लॉस मार्जिन (ELM), और एडहॉक मार्जिन क्या है?

वैल्यू एट रिस्क (VAR) संभावित लॉस को रेफेर करता है जो किसी निश्चित टाइम लिमिट के लिए सिक्योरिटीज से डील करने के दौरान हो सकता है। अनिश्चित रिस्क वाले स्थितियों के कारण होने वाले लॉस को कवर करने के लिए VAR मार्जिन की ज़रूरत होती है।

VAR मार्जिन लिक्विड सिक्योरिटीज के लिए एक दिन और इलिक्विड सिक्योरिटीज के लिए तीन दिनों के लिए कवर्ड रहती हैं।

एक्सट्रीम लॉस मार्जिन (ELM) VAR मार्जिन के अलावा ब्लॉक किया गया मार्जिन होता है। ELM उन रिस्क वाले स्थितियों के लिए ब्लॉक होते है, जो VAR कैलकुलेशन में शामिल नहीं होते हैं।

एडहॉक मार्जिन सिक्योरिटीज के स्वाभाव के आधार पर स्पेसिफिक सिक्योरिटी पर ब्लॉक्ड विशेष मार्जिन होता हैं।

ध्यान दे :

Zerodha में, आपके इक्विटी डिलीवरी ट्रेडों के लिए पूरे मार्जिन की ज़रूरत होती है।

इंट्राडे के लिए, कितना मार्जिन चाहिए, उसके बारें में जानने के लिए आप यहां देख सकतें है।

एडहॉक मार्जिन को Kite फंड पेज पर ' डिलीवरी मार्जिन ' के रूप में दर्शाया गया है।

नए मार्जिन नियमों के कारण, किसी भी अपर्याप्त मार्जिन (VAR+ELM+एडहॉक) पर मार्जिन पेनल्टी लग सकती है।