Search for an answer or browse help topics to create a ticket
View all categories

How to understand the net settlement on console funds statement when trading equity delivery?

(हिंदी में पढ़ें)

The net settlement amount in your Funds statement in Console is the money due to you (Credit) or is receivable from you (Debit) for your equity trades.

The net settlement amount in your Funds statement will match the net amount receivable or payable as per the contract note .

For example:

In the contract note

  1. Consider the sale of stocks as A. So the pay-in obligation is ₹ 806.00/-.
  2. Consider the purchase of stock as B. So the pay-out obligation is ₹ 13,712.65/-. Payout is denoted in brackets ().

Therefore the total pay-out is A - B = C i.e. ₹ (12,906.65)/-

The relevant charges will be deducted or added from this pay-in or payout obligation, as shown below.

12,906.65 + 17.52 = ₹ 12,924.17/- will be the net amount payable by the client, and the client’s funds statement will reflect the debit of the same amount.

As per the above example, since your sale proceeds of ₹ 806/- was adjusted against the purchase of shares of ₹ 13,712.65/-, credit of the sale proceeds will not happen to your trading account.

Note:

If you sell stocks from your Demat or T1(BTST), only 80% credit against the sale value will be available for subsequent trades in the same/other segments on the selling day.

To know more about this, click here .

इक्विटी डिलीवरी ट्रेडिंग करते समय Console फंड स्टेटमेंट पर नेट सेटलमेंट को कैसे समझ सकते है?

आपके Console की फंड्स स्टेटमेंट में इक्विटी ट्रेड्स के लिए नेट सेटलमेंट अमाउंट जो आपके लेजर में क्रेडिट होगा (due to you) या आपके लेजर से डेबिट होगा ( रिसीवएबल/receivable ) होता है।

फंड्स स्टेटमेंट में नेट सेटलमेंट अमाउंट आपके कॉन्ट्रैक्ट नोट के रिसीवएबल या पेएबल अमाउंट से मैच होना चाहिए।

उदाहरण के लिए:

कॉन्ट्रैक्ट नोट पर :

  1. मान लीजिये आपने स्टॉक A बेचा है तो फिर पे-इन ऑब्लिगेशन ₹ 806.00/- होगा।
  2. मान लीजिये की आपने स्टॉक B ख़रीदा है।तो फिर पेआउट ऑब्लिगेशन ₹ 13,712.65/- होगा। पेआउट को ब्रैकेट ( ) में दिखाया जाता है।

इसलिए पूरा पेआउट A - B = C i.e. ₹ (12,906.65)/-

इस पे-इन या पेआउट ऑब्लिगेशन पर लगने वाले चार्जेस को डिडक्ट किया जाएगा, जैसा कि नीचे दिखाया गया है,

12,906.65 + 17.52 = ₹ 12,924.17/- क्लाइंट के द्वारा देने वाला अमाउंट है, और ये वही अमाउंट क्लाइंट की फंड्स स्टेटमेंट में डेबिट दिखायेगा।

ऊपर दिए गए उदाहरण के अनुसार, क्योकि आपका सेल अमाउंट ₹ 806/- है और खरीदने वाला अमाउंट ₹ 13,712.65/- है तो बेचने वाले शेयर का पैसा, खरीदने वाले शेयर के पैसे के साथ एडजस्ट हो जायेगा और बेचने वाले शेयर से मिलने वाला पैसा आपके ट्रेडिंग अकाउंट में अलग से क्रेडिट नहीं दिखेगा।

नोट :

अगर आप BTST या डीमैट से शेयर बेचते है तो बेचने वाले दिन सेल अमाउंट का सिर्फ 80% क्रेडिट मिलता है, इसे इस्तेमाल करके आप दूसरी कंपनीयो के शेयर खरीद सकते है या फिर इंट्राडे ट्रेडिंग कर सकते है।अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे।