Search for an answer or browse help topics to create a ticket
View all categories

What is a contract note?

(हिंदी में पढ़ें)

Contract note is the legal record of any transaction carried out on a stock exchange through a stockbroker. It serves as the confirmation of trade done on a particular day on behalf of a client on a stock exchange

Contract note describes key details of a particular transaction together with the date, time, price, quantity traded etc. It also includes a Reference Number which can be used to cross-check the details of the transaction with the stock exchanges. A valid contract note should have the following details in a structured format

  • SEBI registration number of the Trading Member/ Sub-broker
  • Details of your trades like Order Number, Trade Number, Trade Price, Trade execution Time, Traded security & Quantity, Brokerage Charged, Details of other Service Charges
  • Signature of Authorized Signatory or Digital Signature in Electronic format
  • Bylaws and regulations pertaining to Arbitration



The Net amount receivable/ payable by you for your trades for the day will be indicated at the bottom of the contract note, and this is the amount that will be charged to you & posted in the ledger.

Note: 1. If the net amount is inside brackets it means that amount will be deducted from your trading account for purchases made or losses incurred.

2: Contract notes sent to clients over email needs to be password protected as required by the exchange regulations. The password for your contract note will be your PAN number (In Capital letters)

कॉन्ट्रैक्ट नोट क्या होता है?

कॉन्ट्रैक्ट नोट स्टॉक एक्सचेंज में किसी भी ब्रोकर के यहाँ किये हुए ट्रेड्स की जानकारी का लीगल रिकॉर्ड होता है, यह स्टॉक एक्सचेंज में क्लाइंट की ओर से किसी दिन पर किए गए ट्रेड्स का प्रूफ माना जाता है।

कॉन्ट्रैक्ट नोट में ट्रेड किये हुए दिन का हर ट्रांसक्शन का समय, प्राइस, और ट्रेडेड क्वांटिटी की डिटेल्स होती  है। इसमें रिफरेन्स नंबर भी होता है, जिसे आप स्टॉक एक्सचेंज की वेबसाइट में डालकर अपने ट्रेड को क्रॉस-चेक कर सकते है। एक वैलिड कॉन्ट्रैक्ट नोट में नीचे दिए गए डिटेल्स एक स्ट्रक्चर्ड फॉर्मेट में होना चाहिए:

  1. SEBI रजिस्ट्रेशन नंबर ट्रेडिंग मेंबर और सब-ब्रोकर का,
  2. आपके ट्रेड्स की डिटेल्स जैसे आर्डर नंबर, ट्रेड नंबर, ट्रेड प्राइस, ट्रेड के एक्सीक्यूशन का समय, ट्रेडेड शेयर्स का नाम और उनकी क्वांटिटी ,ब्रोकरेज चार्ज, दूसरे पुरे चार्जेज की डिटेल्स,
  3. ऑथराइज़ड  सिगनटरी का सिग्नेचर या फिर इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मेट में डिजिटल सिग्नेचर,
  4. आर्बिट्रेशन के बाई-लॉज़ और रेगुलेशन,

आपके ट्रेड का ‘Net amount receivable/ payable by you’ कॉलम कॉन्ट्रैक्ट नोट के नीचे दिखाया जाएगा, और यह वह अमाउंट है जो आपसे दिया /लिया जाएगा और लेज़र में पोस्ट किया जाएगा।

नोट:

  1. यदि नेट अमाउंट ब्रैकेट के अंदर है इसका मतलब है कि वह अमाउंट आपके लेजर से शेयर ख़रीदने या इंट्राडे लॉसेस के कारन डेबिट किया गया है।
  2. एक्सचेंज के नियम के अनुसार आपको आपके ई-मेल में भेजे गए कॉन्ट्रैक्ट नोट पासवर्ड प्रोटेस्क्टेड होने चाहिए। आपके कॉन्ट्रैक्ट नोट का पासवर्ड आपका PAN होता है, जो की कैपिटल लेटर्स में डालना होगा कॉन्ट्रैक्ट नोट को अनलॉक करने के लिए।