Search for an answer or browse help topics to create a ticket
View all categories

What are covered bonds?

(हिंदी में पढ़ें)

Covered bonds are debt securities issued by a bank or Non-Banking Financial Company (NBFC) which are collateralized against a pool of assets. In case of failure of payment from the issuer, the amount can be recovered from the pool of assets.

The structure of a covered bond is explained below.

  1. Bank or NBFC issues bonds to the investors.
  2. As a recourse(safety measure), a cover pool of secured loans is also taken.
  3. The bank or NBFC pays the principal + interest to the investors at the end of maturity of the bond.
  4. If the bank or NBFC fails to make the payment, the amount can be recovered from the cover pool.

The cover pool of secured loans consists of Housing loan, vehicle loan, gold loan etc.

Unlike secured corporate bonds which provide recourse against the issuer, covered bonds provide a dual recourse – that is, first recourse against the issuer, and bankruptcy-protected recourse against the assets of the issuer (Cover Pool) too. Generally, due to the cover provided, Covered bonds are expected to provide a credit rating upliftment, over and above the credit rating of the issuer.

Covered bonds cannot be pledged as collateral with Zerodha. To know more about this, please click here.

कवर्ड बॉन्ड क्या होते हैं?

कवर्ड बांड एक बैंक या नॉन-बैंकिंग फाइनेंसियल कंपनी (NBFC) द्वारा जारी की गई डेट सिक्योरिटीज हैं जो पूल ऑफ़ एसेट्स के खिलाफ कोलैटरलाइज़्ड हैं। अगर इशूवर पेमेंट करने में असफल हो जाते हैं तो, यह अमाउंट पूल ऑफ़ एसेट्स से वसूला जा सकता है।

कवर्ड बांड के स्ट्रक्चर को नीचे समझाया गया है।

  1. बैंक या NBFC इन्वेस्टर्स को बांड जारी करते हैं।
  2. एक सहारा (सेफ्टी मेज़र) के रूप में, सिक्योर्ड लोन का कवर पूल भी लिया जाता है।
  3. बांड की मचुरिटी के अंत में बैंक या NBFC इन्वेस्टर्स को प्रिंसिपल+ इंटरेस्ट का पेमेंट करता है।
  4. यदि बैंक या NBFC पेमेंट करने में असफल हो जाता है, तो अमाउंट को कवर पूल से वसूला जा सकता है।

सिक्योर्ड लोन के कवर पूल में हाउसिंग लोन, वाहन लोन, गोल्ड लोन आदि शामिल हैं।

सिक्योर्ड बॉन्ड के विपरीत, जो इशूवर के अगेंस्ट प्रोटेक्शन प्रदान करते हैं, कवर्ड बांड्स डबल प्रोटेक्शन प्रदान करते हैं -यानी की, इशूवर के अगेंस्ट पहला प्रोटेक्शन, और  इशूवर के एसेट्स के खिलाफ बैंकरप्सी-प्रोटेक्टेड प्रोटेक्शन भी (इसमें कवर पूल भी शामिल है )। आम तौर पर, दिए गए कवर के कारण, कवर्ड बॉन्ड से क्रेडिट रेटिंग की ऊपर बढ़ने की उम्मीद की जाती है।

Zerodha में कवर्ड बॉन्ड को कोलैटरल के तौर पर प्लेज नहीं किया जा सकता है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए कृपया यहां क्लिक करें।