Search for an answer or browse help topics to create a ticket
View all categories

How do I activate F&O?

(हिंदी में पढ़ें)

You can enable F&O in your account by placing a request here . Equity and currency derivatives can be enabled by uploading your Income proof.

Anyone of the below documents will suffice as income proof:

  1. Bank statement for the last 6 months with an average balance of more than ₹10,000.
  2. The latest salary slip with gross monthly income exceeding ₹15,000.
  3. ITR acknowledgement with gross annual income exceeding ₹1,20,000.
  4. Form 16 with gross annual income exceeding ₹1,20,000.
  5. Certificate of net worth more than ₹10,00,000.
  6. Statement of Demat holdings with holdings value exceeding ₹10,000.

Do note that the proof must contain the logo/seal of the concerned authority. Once the request is submitted, the F&O segment will be activated in 48 hours.

Activate segment

Note : The above option is available for resident individual and non-individual (Corporate, Partnership account/LLP, etc) accounts. If you hold an NRI account you will have to print out and fill up the segment addition form & send it to our Head office along with your Income proof.

Please ensure that the income proof file is in PDF format and under 5 MB in size.

You can check this video for an explanation of the above points.

मैं इक्विटी और करेंसी के लिए फ्यूचर और ऑप्शन कैसे एनेबल करूं?

अगर आप अपने अकाउंट में फ्यूचर और ऑप्शन एनेबल करना चाहते हैं, तो आप यहाँ कंसोल से रिक्वेस्ट कर सकते हैं, इसके लिए आपको अपना इनकम प्रूफ अपलोड करना होगा।

नीचे दिए गए डाक्यूमेंट्स में से कोई भी इनकम प्रूफ के रूप में उचित होगा:
1. पिछले 6 महीनों का बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
2. लेटेस्ट सैलरी स्लिप
3. ITR अक्नॉलज्मन्ट की कॉपी
4. सैलरी इनकम के मामले में फॉर्म 16 की कॉपी
5. नेट वर्थ सर्टिफिकेट
6. डीमैट होल्डिंग्स का स्टेटमेंट।

ध्यान दें कि प्रूफ में संबंधित अथॉरिटी का लोगो / सील होना चाहिए। रिक्वेस्ट सबमिट होने के
बाद, F&O सेगमेंट 48 घंटों में एक्टिव हो जाएगा।


कृपया ध्यान दें: ऊपर बताये गए ऑप्शन केवल रेजिडेंट इंडिविजुअल एकाउंट्स के लिए है। अगर आप नॉन-इंडिविजुअल (कॉर्पोरेट, एचयूएफ, प्राइवेट लिमिटेड, आदि) अकाउंट रखते हैं तो आपको अपने इनकम प्रूफ के साथ-साथ सेगमेंट ऐडडिशन फॉर्म को भरना होगा और इसे हमारे हेड ऑफिस को भेजना होगा ।