View all categories

What is power of attorney (PoA) and why is it needed?

(हिंदी में पढ़ें)

Power of Attorney (POA) is a document that gives us the authorization to debit your shares from your demat account whenever you sell your shares.  

If you have not submitted the POA, you will be able to place delivery sell instructions by using the CDSL TPIN if you have an individual account. Demat accounts of corporates, partnerships or with joint holders cannot avail the CDSL TPIN facility.    



पावर ऑफ अटॉर्नी (PoA) क्या है और इसकी ज़रूरत क्यों है?


पॉवर ऑफ अटॉर्नी (पीओए) डॉक्यूमेंट है जो हमें आपके डीमैट अकाउंट से अपने शेयरों को डेबिट करने के लिए ऑथॉरिज़ेशन देता है जब भी आप अपने शेयर बेचते हैं।

अगर आपने PoA जमा नहीं किया है, तो आप CDSL TPIN का इस्तेमाल करके डिलीवरी बेचने के निर्देश दे सकेंगे। सहमति की इस मोड में प्रति दिन बेचने के अधिकतम 1 करोड़ रुपये के ट्रांसक्शन पर रेस्ट्रिक्शन है। ऑफ-मार्केट ट्रांसफर रुपये 2 लाख प्रति शेयर में सीमित हैं और कुल मिलाकर रु10 लाख प्रति दिन।

अगर आपके पास 1 करोड़ रुपये से अधिक का पोर्टफोलियो है और आप एक दिन में अपने होल्डिंग से 1 करोड़ रुपये से अधिक के शेयर बेचना चाहते हैं, तो आपको हमें पीओए भेजना होगा। इसी तरह, कॉइन के माध्यम से ट्रांसक्शन या म्यूचुअल फंड ट्रांसक्शन के लिए ऑफ-मार्केट लिमिट से अधिक आपको पीओए भेजना होगा।