Search for an answer or browse help topics to create a ticket

Featured

Show moreless
View all categories

What is the procedure for transposition and de-materialization of jointly held shares?

(हिंदी में पढ़ें)

To de-materialize jointly held physical shares, the names on the joint demat account must be in the same sequence as on the share certificates.

If the order of names of the joint shareholders on the share certificate is not the same as the order of names on the joint demat account, you will have to submit the transposition form and then dematerialize the shares.

For example,

Let’s say Mr. A and Mrs. B are joint shareholders of SBI physical shares and they also have a joint demat account.

The names in the share certificate are Mr. A and Mrs. B, where Mr. A is the first-named shareholder, and Mrs. B is the second.

However, in the Jointly held demat account, the name order is Mrs. B and Mr. A, where Mrs. B is the first holder to the demat and Mr. A is the second holder.

Here to de-materialise SBI shares, they have to submit the transposition form to be signed in order of the demat account, i.e. signed first by Mrs. B, who is the first holder and Mr. A as the second holder.

To transpose and dematerialize your physical share certificates you'll have to submit:-

1. Duly filled transposition form for each scrip.

2. Three copies of the dematerialization request form for each scrip/company (3 DRFs will be sufficient for up to 4 share certificates of the same company. In case you have more than 4 certificates then you will have to submit an extra DRF).

3. DRF (Dematerialization Request form) should be signed in the ‘Signature with DP(Zerodha's record) and ‘Signature with RTA/Issuer’ fields and also mention the Client ID (If It is a joint account then both the holders need to sign).

4. The original share certificates should be submitted along with the DRFs. (You can keep a photocopy with you)

5. A self-attested copy of your PAN.

Send the above documents to the below address:-

Zerodha HO [#153/154 4th Cross Dollars Colony,

Opp. Clarence Public School,

J.P Nagar 4th Phase, Bangalore - 560078]

Note: The transposition form will have to be signed in the same order as on the joint Demat account.

Once you submit the above, the RTA (Registrar And Share Transfer Agent) will take up to 25 days to complete the dematerialization process.

जॉइंट रूप से होल्ड की गई शेयरों के ट्रांसपोज़िशन और डीमटेरियलाइजेशन की प्रक्रिया क्या है?

जॉइंट रूप से होल्ड की गई फिजिकल शेयरों को डी -मटेरियलाइज़ करने के लिए, जॉइंट डीमैट अकाउंट पर जो नाम है, वह उसी क्रम में होना चाहिए जैसे की शेयर सर्टिफिकेट्स पर होता है।

अगर शेयर सर्टिफिकेट पर जॉइंट शेयरहोल्डर्स के नामों का क्रम जॉइंट डीमैट अकाउंट पर नामों के क्रम के समान नहीं है, तब आपको ट्रांसपोज़िशन फॉर्म को जमा करना होगा और फिर शेयरों को डी-मटेरियलाइज़ करना होगा।

उदाहरण के लिए,

मान लें कि मिस्टर A और मिसेज B, दोनों ही SBI के फिजिकल शेयरों के जॉइंट शेयरहोल्डर हैं और उनका एक जॉइंट डीमैट अकाउंट भी है।

शेयर सर्टिफिकेट में नाम मिस्टर A और मिसेज B हैं, जहां मिस्टर A पहले शेयरहोल्डर हैं, और मिसेज B दूसरी शेयरहोल्डर हैं।

जबकि, जॉइंट रूप से होल्ड की गए डीमैट अकाउंट में, जिस आर्डर में नाम है, वह मिसेज B और मिस्टर A है, जहां मिसेज B डीमैट अकाउंट की पहली होल्डर हैं और मिस्टर A दूसरे होल्डर हैं।

यहां SBI के शेयरों को डी-मटेरियलाइज़ करने के लिए, उन्हें डीमैट अकाउंट में जो आर्डर है उसी क्रम में साइन करने होंगे और ट्रांसपोजिशन फॉर्म को जमा करने होंगे। यानी पहले मिसेज B को साइन करने होंगे, जो पहली होल्डर हैं और फिर मिस्टर A को साइन करने होंगे, जो के दूसरे होल्डर हैं।

अपने फिजिकल शेयर सर्टिफिकेट को ट्रांस्पोज़ और डी-मटेरियलाइज़ करने के लिए आपको यह जमा करने होंगे -:-

1. प्रत्येक स्क्रिप के लिए अच्छे से भरा हुआ ट्रांस्पोसिशन फॉर्म

2. प्रत्येक स्क्रिप/कंपनी के लिए डीमटेरियलाइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म की तीन कॉपी (एक ही कंपनी के 4 शेयर सर्टिफिकेट के लिए 3 DRF काफी होंगी। अगर आपके पास 4 से अधिक सर्टिफिकेट हैं तब आपको एक एक्स्ट्रा DRF को जमा करना होगा)।

3.DRF (डीमटेरियलाइजेशन रिक्वेस्ट फॉर्म) पर 'सिग्नेचर विद DP (Zerodha का रिकॉर्ड) और 'सिग्नेचर विद RTA/इश्यूअर' फील्ड में सिग्नेचर किए जाने चाहिए और क्लाइंट ID को भी मेंशन करना होगा (यदि यह जॉइंट अकाउंट है तो दोनों होल्डर्स को साइन करने की ज़रूरत है)।

4. ओरिजिनल शेयर सर्टिफिकेट को DRF के साथ जमा करना होगा। (एक फोटोकॉपी अपने पास रख सकते हैं)

5. आपके PAN की एक सेल्फ-अटेस्टेड कॉपी।

ऊपर बताए गए डाक्यूमेंट्स को नीचे दिए गए पते पर भेजें:-

Zerodha HO [#153/154 4th क्रॉस डॉलर कॉलोनी,

Opp. क्लेरेंस पब्लिक स्कूल,

जे. पी नगर 4th फेज, बैंगलोर - 560078]

नोट: ट्रांसपोज़िशन फॉर्म पर उसी आर्डर में साइन करने होंगे जैसे की जॉइंट डीमैट अकाउंट में होते हैं।

जब आप इन्हे जमा कर देते हैं, तो RTA (रजिस्ट्रार और शेयर ट्रांसफर एजेंट) को डीमटेरियलाइजेशन की प्रक्रिया को पूरा करने में 25 दिन तक का समय लग जाएगा।